महिला ने अपनी लाल शाल उतारी और पटरी पर खड़ी हो गई

वाराणसी से नई दिल्ली जा रही काशी-विश्वनाथ एक्सप्रेस ट्रेन जगेसरगंज की ओर बढ़ रही थी। उसी वक्त पूरे केवल गांव की श्यामा पटेल पत्नी श्रीराम की नजर टूटी पटरी पर पड़ी। महिला ने अपनी लाल शाल उतारी और पटरी पर खड़ी हो गई। शाल लहराकर ट्रेन रोकने की कोशिश करने लगी। ट्रेन आउटर से दो सौ मीटर दूरी पर ही थी उसी वक्त चालक आरए शर्मा की निगाह लाल कपड़े पर पड़ी। चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया। (amarujala.com)

Click and Read Complete news

महिला ने अपनी लाल शाल उतारी और पटरी पर खड़ी हो गई

Leave a Reply

Your email address will not be published.