CBI techie hosted NEO Tatkal Ticket software on a US server

तत्काल टिकटों की धांधली: आरोपी CBI प्रोग्रामर के तार अमेरिका और रूस से जुड़े

The CBI sources said during initial investigation it has emerged that Ajay Garg, Assistant Programmer at the agency, and his front, Anil Gupta, had hosted their illegal software on a USA-based server while emails were created on a Russian server to avoid detection.

They said the software created by them had to be hosted on a server and the end users could access it through a user name and password provided by Garg and Gupta.

The duo used to charge Rs 1,000-1,200 from travel agents using their software.

The software which they christened ‘Neo’ was hosted on a USA-based server, they said.

सूत्रों ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि सीबीआई में सहायक प्रोग्रामर अजय गर्ग और उसके साथी अनिल गुप्ता ने अपने अवैध सॉफ्टवेयर के लिए अमेरिका स्थित सर्वर का सहारा लिया। वहीं पकड़ में आने से बचने के लिए ई-मेल रूसी सर्वर पर तैयार किए थे। उन्होंने कहा कि इन लोगों के बनाए गए सॉफ्टवेयर का एक सर्वर होस्ट होता था। यूजर्स इस तक अजय और अनिल के दिए गए यूजर नेम तथा पासवर्ड के जरिये पहुंच सकते थे। दोनों अपने सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल के लिए ट्रैवल एजेंटों से 1,000-1,200 रुपये वसूलते थे।

तत्काल टिकट बुकिंग धांधली मामले में सीबीआई ने इंटरपोल के जरिये अमेरिका और रूस को पत्र लिखा है।

Read More Sources Hindustan Times Jagaran

CBI techie hosted NEO Tatkal Ticket software on a US server

Leave a Reply